स्टार्टअप शुरू करने के बारे मै सोच रह है तो जरूर पढ़े… बिझनेस की ओर बढते कदम

How To Start A Startup –

“विचारों को सच मे उतारणे के लिए अपनी क्षमताओं पर विश्वास करना जरूरी है |

 

     भारत मे रोजगार की कमी के चलते कई युवक बेरोजगार है, और तो और अब कोरोना के कारण न जाने कितने लोगो ने अपनी जॉब गवा दी है| इसलिए आज बहुत से लोग अपना खूद का नया बिज़नेस शुरू करने के बारे मे सोच रहे हैं | पर कई सारे सवाल उनके दिमाग घुम रहे होंगे, सबसे पहले यही सवाल होगा की स्टार्टअप कैसे को शुरू करे? तो आप यह आर्टिकल पूरा पढ़ेंगे तो आपको समझ में आ जायेगा कि कैसे बिज़नेस शुरू करना है और कौन से बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि आपका बिज़नेस सफल हो सके|

पहला कदम

    सबसे पहले तो आपको अपने दिमाग को जोखिम (Risk) उठाने के लिए तैयार करना बहुत जरूरी है क्योंकि जोखिम व्यवसाय का पहला कदम है| और फिर बिना डरे पूरे आत्मविश्वास के साथ बिज़नेस आइडिया (Business Idea) पर काम करना शुरू कर देना चाहिए| उससे पहले आपको तय करना होगा बिजनेस विजन एंड मिशन (Business Vision And Mission) यानी की आपको पता होना चाहिए की आप कौन-सा बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं? क्यों करना चाहते है? और  बिज़नेस के लिए आपका लक्ष्य (Goal) क्या है? इस पर अच्छे से सोचिए| साथ ही बिज़नेस आइडिया (Business Idea) पर अच्छे से काम करे और उसके बारे में रिसर्च करना शुरू करे| बिज़नेस मे हर छोटे मोठी बातों के लिए और अपडेट रहने के लिए बार बार रिसर्च करते रहना चाहिए| जब आप आइडिया पे काम कर रहे होते हो तो रिसर्च करने से आपको सही बिज़नेस  के चुनाव का आइडिया मिल जायेगा और आपकी मदत हो जायेगी| आप बिज़नेस आइडिया को चुनते वक्त जिस बिज़नेस मे आपकी पसंद से ज्यादा आपका अनुभव अच्छा है वही बिज़नेस चुने तो आपके लिए आसान और बेहतर रहेगा|

 प्लानिंग (PLANNING)

      अब बात करेंगे प्लानिंग के बारे में, कोई भी काम हाथ मे लो तो पूरी प्लानिंग के साथ ही करना जरूरी होता है वरना काम बिगड़ते देर नहीं लगती| ये तो फिर बिज़नेस है | जिस बिज़नेस में प्लानिंग नही की जाती है उस बिज़नेस के सफल होने के बहुत ही कम उपलब्धिया रह जाती है | इसलिए आपका बिज़नेस किस प्रकार का होगा यह तय करना पडेगा |  प्रोडक्ट बनाएंगे (Product based Business) या फिर आप कोई सर्विस देंगे (Service based Business) इस पर अच्छे से सोच लीजिए| अब जब पूरा देश डिजिटल बन रहा है तो आपका बिज़नेस Online Business होगा या Offline Business ही रहेगा या फिर दोनों जगह होगा? आपके बिज़नेस प्रकार के हिसाब से आपको बिज़नेस मे कितना समय और कितने लोगों कि जरूरत हैं ये भी तय कर लीजिए| इसके हिसाब से अच्छे से आप बिजनेस रणनीति (Business Strategy) बना लिजिए|

वर्क मॅनेजमेंट (WORK MANAGEMENT)

        प्लानिंग के बाद आप बिज़नेस मॉडल यानी आप जो करना चाहते है वो व्यवस्था (system) कैसे काम करेगी? क्या-क्या प्रोडक्ट (products) होंगे या क्या-क्या सर्विस (services) होंगी किस एरिया में बिज़नेस करना चाहते है? किन-किन साधन (resources) की जरुरत पड़ेगी? इसका  एक लेखा-जोखा | मार्किट रिसर्च करने के बाद आपको पता चल जाता है की आपका बिज़नेस मॉडल क्या है?, मार्किट में कैसा रहेगा?, इस के साथ ही बिज़नेस में कितना कम्पटीशन (competition) है, कौन कौन बिज़नेस मैं प्रतियोगी (competitor) है और वो बिज़नेस मे क्या कर रहे है| यही नही प्रोडक्ट या सर्विस का मार्केट (Market) में कितनी मांग (Demand) है और कितनी आपूर्ति (Supply) है। ये भी रिसर्च से आपको पता चल जायेगा| इस जानकारी के हिसाब से आप बिज़नेस मॉडल बना सकते है|

        अगर आप अपने स्टार्टअप को भविष्य में एक बड़ा ब्रांड बनाना चाहते है तो ऩाम छोटा और यूनिक होना जरूरी है ताकि लोगो को बोलने और याद रखने मे आसान हो | रहा सवाल धन प्रबंधन करने का तो आपके पास थोडे पैसे होंगे तो भी चलेगा बाद मे आप बँक (Bank) से लोन (Loan) लें सकते है |  बिज़नेस के हिसाब से एक बेहतरीन टीम बनाइये| यदि यहाँ तक की सभी बातों पर आपने विचार करके एक अच्छा बिज़नेस प्लॅन बना लिया है तो अब आपको अपना बिजनेस रजिस्टर (Business Registration) कराना होगा जो सबसे जरूरी काम है। बिज़नेस छोटा हो या बड़ा उसे रजिस्टर कराना बेहद जरूरी है| लीगल प्रोसेस को समझने के लिए आप लीगल सलाहकार (adviser) से विचार विमर्श कर सकते|

      अब आपको अपने नए बिजनेस को शुरू कर देना चाहिए। आप आपना बिजनेस अकेले भी कर सकते पर  बिजनेस को सफल बनाने के लिए सह-संस्थापक का बहुत बड़ा हाथ रहता है तो आप सह-संस्थापक के बारे मे सोच सकते है| ऐसे व्यक्ति को ही सह-संस्थापक बना सकते है जो ना सिर्फ़ आपके भरोसेमंद हो बल्कि उसकी आर्थिक कडिंशन भी अच्छी होनी चाहिए| ताकि कोई मुसीबतों मे मदत हो| 

मार्केटिंग

       अपने बिजनेस की मार्केटिंग कीजिये| आपको अपने बिझनेस को एक ब्रॅंड (Brand) का रूप देकर उसकी मार्केटिंग शुरू कर देनी चाहिए। आप यह निश्चित कीजिये कि विज्ञापन (Advertisement) केवल ऑफलाईन (Offline) होगा या ऑनलाइन (Online) पर उसे सफल बनाने के लिए दोनों तरीकों से विज्ञापन (Advertisement) करना जरूरी है | जितना अच्छे से आप मार्केटिंग करेंगे उतना  ही आपका बिजनेस बढेगा और आपको फायदा होना शुरू होगा|  

                                                                                             – आम्रपाली तावरे

“ज्ञान की नींव मजबूत करें और खुद को विकसित करें।”

Stay Updated…

Other Blogs
Follow Us On Facebook And Instagram
For More Information Please Call Us On 7272971971

Share this:

0 responses on "स्टार्टअप शुरू करने के बारे मै सोच रह है तो जरूर पढ़े... बिझनेस की ओर बढते कदम"

    Leave a Message

    All Right Reserved.
    Translate »